What is cloud computing in Hindi (Full Guide)

जब से दुनिया मे Computer का विकास हुआ है तब से हर दिन किसी ना किसी Technology को इस Computer से जोड़ा जा रहा है ताकि लोगो के काम आसान बनाये जा सके। बैसे भी ये सभी जानते ही है कि Computer जैसी Technology ना आज दुनिया भर में अपनी एक नई क्रांति पैदा कर दी है। इशी से एक बोहोत ही इम्पोर्टेन्ट टॉपिक What is cloud computing in Hindi के बारे में आज हम आपसे बात करेंगे.

friends जब हम Computer के बारे में बात करते है तो आज Cloud Computing का नाम जरूर आता है क्योंकि यह एक ऐसी टेक्नोलॉजी है जिसने internet को काफी सरल बनाया है लेकिन आख़िर यह क्या है? और यह Technology कैसे करें करती है इसकी Knowledge काफी कम लोगो को है इसलिए आज हमने अपने इस आर्टिकल में नीचे इस Cloud computing जैसी useful Technology के बारे में Detail में जानकारी Share की है।

अगर आप इस Cloud computing के बारे में और भी जानकारी लेना चाहते है तो आप इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े, इस आर्टिकल में आपको Cloud computing कैसे काम करता है और उसके features के बारे में सभी जानकारी दी जाएगी।

Cloud computing क्या है ? (What is cloud computing in Hindi)

Cloud computing एक एक ऐसा ऑनलाइन प्लेटफार्म है जिस पर आप अपनी Files को सर्वर पर अपलोड कर सकते है और साथ ही अपने सिस्टम पर बिना कोई एक्स्ट्रा Application इनस्टॉल किये हुए सर्वर पर उपलब्ध सभी रिसोर्सेज को एक्सेस कर सकते है। इसके लिए User के पास सिर्फ Internet Connection होना ज़रुरी है।

Cloud computing का मतलब होता है कि User की Demand पर उसके सभी Data को किसी भी समय User के लिए उपलब्ध कराना। आज के समय में Data को Secure करके रखना बहुत बड़ा issue है।

इसलिए आज के समय में सभी बड़े organization अपनी Organization के Data और उस Organization के सभी Application और resources को सभी employee के Users के पास पहुँचाने के लिए इस Cloud computing का उपयोग करती है।

आने वाले समय में Cloud computing काफी पोपुलर होता जा रहा है क्योंकि Cloud computing के द्वारा Users को काफी features दिए जा रहे है। अगर किसी organization इस Cloud computing को यूज़ करती है तो उस Organization के Users को उस Organization के किसी भी Application को डाउनलोड करने की जरुरत नही होगी.

कोई भी User C>Cloud computing क्या है ? (What is cloud computing in Hindi)a को एक्सेस कर पायेगा। इसके अलावा उस Organization को High performance, low cost services, low maintenance और data privacy issue के साथ साथ availability का फायदा भी मिलता है और यही Cloud computing का सबसे बड़ा एडवांटेज है।

क्लाउड कंप्यूटिंग विशेषताएं:

Cloud computing एक ऑनलाइन platform है जो अपने Users को on Demand services provide कराता है। Cloud computing में User को Internet के माध्यम से कई तरह की services प्रदान की जाती है।

आज के समय में Cloud computing को लगभग हर organization यूज़ कर रही है। Cloud computing पर Organization को तीन तरह की services provide कराई जाती है जिससे वो अपना काम कर सके।

इस बढ़ रही technology के समय में Cloud computing एक काफी अहम service है जो User को उनकी जरूरत के अनुसार Data को हर उस जगह उपलब्ध कराता है जहाँ User उस Data को एक्सेस करना चाहता है।

Examples of cloud computing:

आज हर बड़ी organization Cloud computing को यूज़ कर रही है।

Amazon:

आज के समय में कोई भी shopping साईट Cloud computing के बिना अपना काम नही कर सकती है क्योंकि जब आप अपने वेब ब्राउज़र पर इस वेबसाइट को खोलते है तो आपके वेब ब्राउज़र और अमेज़न के सर्वर के बीच सभी Data transfer Cloud computing के द्वारा ही होता है।

YouTube :

you tube भी अपने सभी User का Data Cloud computing के द्वारा ही मैनेज करता है और जब आप youtube को वेब ब्राउज़र में ओपन करते है तो you tube Cloud computing की platform as a service को यूज़ करता है।

जब आप अपने किसी भी photos या videos को ऑनलाइन edit करते है तो आप ये सभी काम Cloud computing की मदद से ही कर पाते है क्योंकि फोटो को edit करने के लिए किसी फोटो एडिटर की जरूरत होती है और फोटो को edit करने के दौरान Cloud computing की platform as a service को वेब ब्राउज़र पर यूज़ किया जाता है और आप अपने videos और फोटो को edit कर पाते है।

ऑनलाइन ऑफिस Application :

अगर आप कोई ऑनलाइन ऑफिस Application पर काम कर रहे है तो आप Cloud computing की सर्विस की मदद से ये सभी काम कर पाते है।

Cloud computing के प्रकार (Types of Cloud computing in Hindi):

Cloud computing चार तरह का होता है:

  1. Public cloud : यह वो cloud सर्वर होते है जो पब्लिक User के लिए available होते है, इस तरह के Cloud computing में Data की सिक्यूरिटी बहुत ही कम होती है और इसमें Data पर User का फुल कण्ट्रोल नही होता है। गूगल अपने cloud सर्वर पर हर User को 15GB का cloud storage देता है और यह पब्लिक cloud में चैप्टर में आता >क्लाउड कंप्यूटिंग विशेषताएं:: जैसा कि इसके नाम से पता चल रहा है कि यह एक प्राइवेट cloud है जिसका मतलब है कि यह किसी एक कम्पनी द्वारा अपनी खुद की organization की सभी services को मैनेज करने के लिए प्रयोग किया जाता है। इस Cloud computing पर सिर्फ एक ही organization का कण्ट्रोल होता है और इसमें Data प्राइवेसी के issue काफी कम होते है।
  2. Community cloud : यह वो cloud सर्वर होते है जिस Cloud computing में एक से ज्यादा organization शामिल होते है और अपना Data शेयर करते है उनको Community cloud कहा जाता है। इनकी सिक्यूरिटी पब्लिक cloud से ज्यादा होती है।
  3. Hybrid cloud : ऐसा cloud सर्वर जिसमे सभी तरह के Users होते है इसमें Public, private, hybrid और community सभी तरह के cloud सर्वर शामिल होते है।

Cloud computing की services :

Cloud computing को उसक>Examples of cloud computing:सार तीन टाइ>Amazon:किया गया है। तीनों तरह के Cloud computing सर्विस के बारे में नीचे बताया जा रहा है।

Infrastructure as a service:

यह Infrastructure as a service, Cloud computing का पहला टाइप है। इस सर्विस को (lass) भी कहते है। इस सर्विस में User को आईटी इन्फ्रास्ट्रक्चर का सपोर्ट मिलता है। जब कोई Organization Cloud computing की इस Infrastructure as a service सर्विस को लेती है तो उसे Cloud computing पर storage, network और कंप्यूटर एक्सेस दिया जाता है।

>YouTube :s a service:

अगर कोई organization इस Platform as a service को भी यूज़ करती है तो उसको अपनी Organization के सभी Application को डेवेलोप करने के लिए फुल एक्सेस platform मिलता है इसके साथ ही वो इस इस platform पर रन भी करा सकते है और अपने सभी काम ऑनलाइन कर सकते है साथ ही इस Platform as a service में वेब सर्वर, dev टूल, ऑनलाइन डेटाबेस जैसी services भी मिलती है।

इससे organization में उपलब्ध सभी computers में Application को install नही करना होगा और Organization में काम करने वाले सभी employee एक साथ कही से भी काम कर पायेगे। इस सर्विस से उस Organization को Data बसे मैनेजमेंट, डेवलपमेंट, सर्वर maintenance जैसी कोई परेशानी नही होती है।

Software as a service:

अगर कोई organization इस cloud computing की इस सर्विस को purchase करती है तो उसको इस सर्विस का एक्सेस दिया जाता है इस Software as a service में उस Organization के Application को वेब ब्राउज़र पर रन करने के लिए प्रयोग किया जाता है। जैसे अगर आप किसी shopping साईट को अपने वेब ब्राउज़र में ओपन करेगे >ऑनलाइन ऑफिस Application :ice के द्वारा ही आपके वेब ब्राउज़र पर रन हो पाती है। ऑनलाइन गेम्स, ऑनलाइन चलने वाले सभी Application इ>Cloud computing के प्रकार (Types of Cloud computing in Hindi): ? (How does cloud computing work)

अगर आप ये जानना चाहते है कि Cloud computing कैसे काम करता है तो आपको बता दु कि जब कोई organization किसी Cloud computing सर्वर को अपनी सर्विस के लिए hire करती है तो उस सर्वर पर उस organization के सभी जरुरी Application, Data को अपलोड कर दिया जाता है.

जिससे उस Organization में काम करने वाले employee किसी भी सिस्टम पर लॉग इन करके अपना काम कर सके। Cloud computing में आपको उसी सर्विस के लिए पे करना होता है जिस सर्विस को आप यूज़ करते है।

Cloud computing के लाभ :

आज के समय में इस टेक्नोलॉजी के समय में Cloud computing के कई लाभ है जिनके बारे में आप नीचे पड़ सकते है –

  • Cloud computing का सबसे बड़ा लाभ ये है कि आप इस Cloud computing को दुनिया भर की किसी भी जगह से Internet Connection की मदद से एक्सेस कर सकते है। Cloud computing के सर्वर पर आपको एक बार अपना Data अपलोड करना होता है इसके बाद आपको अपने Data को अपने साथ किसी ड्राइव में ले जाने की जरूरत नही पड़ती है और ना ही आपको अपने Data को maintenance करने की जरूरत पड़ती है ये सारा काम Cloud computing के जरिये होता है। आपको बस एक बार अपना Data अपलोड करना होता है और हमेशा एक्सेस कर सकते है।
  • Cloud computing सर्विस को आप बस एक मिनिट में के सकते है और इसके लिए आपको बस Cloud computing की वेबसाइट पर विजिट करना होता है और अपना अकाउंट बनाना होता है इसके बाद आपको Cloud computing की सर्विस सेलेक्ट करनी होती है और आप Cloud computing को प्रयोग कर सकते है।
  • अगर आप कोई हार्ड ड्राइव खरीदते है और वो किसी भर जायेगी लेकिन अगर आप Cloud computing मे अपने Data को अपलोड करना चाहते है तो Cloud computing में आपको unlimited storage मिलता है। इससे आपको बार बार हार्ड ड्राइव खरीदने की जरूरत नही पड़ती है।
  • Cloud computing की सर्विस कि cost बहुत कम होती है और इसे काफी आसानी से लिया जा सकता है और User को उसी सर्विस के लिए पे करना होता है जिस सर्विस को वह User यूज़ करना चाहता है।
  • आज के समय में बहुत सी कम्पनी Cloud computing को यूज़ करने लगी है जिससे अब उनको अपनी Organization में आईटी एडमिनिस्ट्रेटर की जरूरत नही पड़ती है क्योंकि अब organization की सभी जरुरी Data को मैनेज और Secure करने की सभी जिम्मेदारी Cloud computing की होस्ट Organization की होती है।
  • इस Cloud computing की ये भी responsibility होती है कि वो किसी भी कीमत पर Organization की Data को Secure रखे इस लिए सभी Cloud computing Organization हर Data की बैकअप Files रखती है जिससे किसी भी तरह का कोई भी Data loss नही हो पायेगा जबकि अगर कोई Org>Cloud computing की services :es को यूज़ नही करती है तो ये सभी जिम्मेदारी उस Organization को उठानी होती है और यह प्रोसेस काफी expensive होती है।

Conclusion:

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में बस इतना ही था. आसा करता हु की आप सबको What is Cloud Computing in hindi के बारे में आपको पूरी जानकारी मिल गये होंगे. अगर आपको cloud computing के बारे में और भी जानकारी सहिये तो हमे जरुर बताये. और आपको हमार>Infrastructure as a service:बताये. अगर आर्टिकल अत्छा लगा हो तो आपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे और Facebook, Twitter और LinkedIn पर भी जरुर share करे.

  • Software as a service:ement('script' );e.setAttribute('type','text/javascript' );e.setAttribute('charset','UTF-8' );e.setAttribute('src','//assets.pinterest.com/js/pinmarklet.js?r='+Math.random()*99999999);document.body.appendChild(e)})());">
  • Cloud computing के लाभ :orSssSharingSvg heateorSssTwitterSvg">
>Conclusion:

Leave a Comment