CPU क्या है? What is CPU in Hindi

What is CPU in Hindi: आज के आधुनिक युग में बहुत बदलाव हुये हैं। पहले के समय में जब कंप्यूटर का निर्माण हुआ था तब कंप्यूटर सिर्फ एक साधारण सा कंप्यूटर था परंतु आज टेक्नोलॉजी में आए हुए परिवर्तन के कारण आज कंप्यूटर बहुत से कार्य को एक साथ करने में सक्षम है।

यह कंप्यूटर के अंदर CPU में हुए बदलाव से है।  पहले के समय में कंप्यूटर सिंगल  कोर के आते  थे। अब इसमें बहुत से Cores का इस्तेमाल करके इसे बहुत ही तेज़ और शानदार बना दिया है। चलिए आज  आर्टिकल में CPU क्या है?, कितने प्रकार के होते है?, और यह कैसे काम करता है इसके बारे में Detail में जानते है – 

CPU क्या है? – CPU in Hindi

CPU   यानि कंप्यूटर का दिमाग  होता है।  CPU कंप्यूटर का एक मेन भाग होता है जिसे Central Processing Unite कहते हैं।  यह कंप्यूटर का ब्रेन होता है जो सभी डाटा को अपने अंदर सेव करता है और कंप्यूटर को चलाने में मदद करता है।

CPU पूरे कंप्यूटर को कंट्रोल करता है।  कंप्यूटर के सारे फंक्शन CPU के अंदर होते हैं।  CPU के बिना कंप्यूटर किसी काम का नहीं है।

CPU का फुल फॉर्म क्या है? – Full Form Of CPU

CPU का फुल फॉर्म Central Processing Unit है। 

C: Central

P: Processing

U: Unit

CPU क्या है? – CPU in Hindiभाग है। जिसे कंप्यूटर का मस्तिष्क भी कहा जाता है।  यह कंप्यूटर के सभी फंक्शन को कंट्रोल करता है।  इसके सभी फंक्शंस के कारण इसे Brain Of Computer के नाम से भी जाना जाता है।  यह Processes और माइक्रोप्रोसेसर आदि के नाम से भी जाना जाता है।

CPU के प्रकार – Types of CPU in Hindi

जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी का विकास होता गया। कंप्यूटर में बहुत बदलाव किए जाने लगे। पहले कंप्यूटर की स्पीड धीमी होती थी परंतु बाद में इसकी स्पीड और अधिक कर दी गई,  जिससे कार्य बहुत आसान हो  गए।

CPU कंप्यूटर का मेन भाग होता है परंतु इसमें भी अलग-अलग प्रकार होते हैं। जिसके आधार पर कंप्यूटर को अलग-अलग भागों में बांटा गया है क्योंकि कंप्यूटर में  CPU के अलग-अलग प्रकार >CPU का फुल फॉर्म क्या है? – Full Form Of CPUे और  आसानी से चलाने में मदद करता है।  चलिए जानते हैं CPU के प्रकार क्या क्या है:

सिंगल कोर (Single Core):

सिंगल कोर कंप्यूटर का सबसे पुराना प्रकार है, जो पहले के कंप्यूटर में बहुत ज्यादा काम में लिए जाते थे।  जिनके पास आज भी पुराने कंप्यूटर है उन सभी के पास  सिंगल कोर CPU मिल जाएंगे।

कंप्यूटर में सबसे पहले सिंगल कोर का ही प्रयोग किया जाता था। यह थोड़ा धीमा प्रोसेस होता था, जिसके कारण एक समय में केवल एक ही ऑपरेशन किया जा सकता था।

यह मल्टीटास्किंग नहीं था।  जब यूज़र सिंगल कोर कंप्यूटर को चलाता था तो इसका प्रोसेस धीमा होता था।  इसके अंदर क्लॉक स्पीड भी बहुत ही धीमी होती थी और  CPU का फंक्शन पूरा क्लॉक स्पीड पर निर्भर करता था।  इसके धीमे प्रोसेस के कारण लोगों को काम करने में ज्यादा समय लग जाता था।

ड्यूल कोर (Double Core):

ड्यूल कोर CPU सिंगल कोर CPU की तरह होता है, परंतु इसके अंदर कुछ बदलाव करके >CPU के प्रकार – Types of CPU in Hindiनाम से जाना जाने लगा इसके फंक्शन डबल हो गए। जिसके कारण इस पर मल्टीटास्किंग कार्य किए जाने लगे।

ड्यूल कोर CPU में बहुत से काम एक साथ आसानी से और सफाई से किए जा सकते  हैं।  इस प्रोसेस के अंदर क्लॉक स्पीड भी लगभग डबल हो जाती है जो मल्टीटास्किंग को बहुत ही आसान बनाता है।

ड्यूल कोर के अंदर सिस्टम और प्रोग्राम को दोगुनी स्पीड से कराया जाता है। जिसके कारण कंप्यूटर तेज गति से कार्य करता है और बिना  रुके काम को आसानी से कर देता है।

हेक्सा कोर (Hexa Core):

हेक्सा कोर CPU से सबसे फास्ट कोर में से एक होता है क्योंकि इसके अंदर 6 कोर लगाए जाते हैं यानी कि ड्यूल कोर के 3 गुना ज्यादा पावर वाले  कोर जो काम को बहुत ही आसान और बहुत ही तेजी से कर देता है।

बहुत ज्यादा कार्य को करने के लिए हेक्सा कोर CPU का इस्तेमाल किया जाता है।  इसकी पावर स्पीड सबसे अच्छी होती है।  यह  क्वॉड कोर के मुकाबले 6 गुना ज्यादा शक्तिशाली होता है।

ऑक्टा कोर (Octa Core):

हेक्सा कोर के बाद सबसे पावर फुल CPU में आने वाला ऑक्टा कोर है, जिसके अंदर  हेक्सा कोर CPU से भी ज्यादा कोर का इस्तेमाल किया जाता है।  इसके अंदर लगभग  8 कोड का इस्तेमाल किया जाता है। एक अलग ही लेवल पर कार्य करता है जिसकी स्पीड मल्टीटास्किंग गतिविधियों से फास्ट भी होती है।

डेका कोर (Deca Core):

डेका कोर आज के जमाने में सबसे फास्ट काम करने वाला CPU है। इस CPU के अंद>सिंगल कोर (Single Core):जाते हैं।  इसके अंदर लगभग 10 कोर लगाए जाते हैं जो सबसे ज्यादा पावरफुल होते हैं।

यह वर्तमान में सबसे पावरफुल CPU में से एक है और उसे लंबे और बड़े-बड़े प्रोजेक्ट के लिए काम में लिए जाते हैं।  इनका ज्यादा सर इस्तेमाल 3D और मॉडलिंग के लिए किया जाता है।

CPU कोर क्या होते हैं?- What is CPU Core in Hindi

कंप्यूटर को चलाने के लिए कम से कम एक प्रोसेस की जरूरत होती है और यह प्रोसेस CPU कोर से बनता है।   कोर एक तरह का प्रोसेस होता है, जिसके अंदर कंप्यूटर की स्पीड होती है।

पहले के समय में कंप्यूटर केवल सिंगल कोर का होता था, जिसकी वजह से एक ही कार्य किए जा सकते थे परंतु आज CPU कोर अधिक लगाकर बहुत से कार्य को एक साथ किया जा सकता है और बहुत ही तेजी से किया जा सकता है।

जैसे जैसे समय बदलता गया और टेक्नोलॉजी एडवांस होती गई। CPU में मल्टी कोर का इस्तेमाल किया जाने लगा। आज CPU एक नहीं बल्कि 10 कोर के साथ भी कार्य करता है जो कि बड़े-बड़े कार्यों को पूरा करने के लिए महत्वपूर्ण है।

CPU को कोर के आधार पर जाना जाता है जिस व्यक्ति को अधिक स्पीड में कार्य करने के लिए अच्छे कोर चाहिए होता है। वह अधिक कोर वाला कंप्यूटर इस्तेमाल करता है।  कंप्यूटर को अलग-अलग   CPU कोर के आधार पर बाटा गया है।  CPU कोर प्रकार के हैं:

  • सिंगल कोर (Single Core)
  • ड्यूल कोर (Dual Core)
  • डेका कोर (Deca Core)
  • ऑक्टा कोर (Octa Cor>ड्यूल कोर (Double Core):re)

इन सभी प्रकार के बारे में हमे already ऊपर detail में explain करके रखा हे.

CPU कैसे काम करता है?

हम सभी जानते हैं कि हम सभी कंप्यूटर पर कार्य करते है, जिसमें हम कीबोर्ड माउस अधिक इस्तेमाल करते हैं परंतु किसी को पता नहीं होता है कि कंप्यूटर किस तरह से कार्य करता है।

हमारे द्वारा सिर्फ कंप्यूटर को निर्देश दिया जाता है और वह आपके कार्य को अच्छी तरह से और जल्दी से कर देता है।  CPU काम अपने बेसिक फंक्शन के कारण करता है जैसे कि fetch, decode, और execute आदि।

Fetch:

Fetch के अंदर CPU इंस्ट्रक्शंस को अपने अंदर रिसीव करता है और CPU के अंदर से प्रोसेस होते हुए उसे आउटपुट के तौर पर कंप्यूटर  स्क्रीन पर दिखाता है।

Decode:

जब कंप्यूटर द्वारा Instruction स्कोर Fetch कर लेता है। तब CPU उस इंस्ट्रक्शंस को आगे पास कर देता है जो कि Instruction डेकोर के पास में जाता है यह कंप्यूटर  के एक्शन part का दूसरा भाग है।

Execute:

CPU के कार्य का यह आखिरी स्थित होता है जिसके अंदर Decode Instruction को  CPU के  आउटपुट वाले भाग में भेज देता है जिससे व्यक्ति को कंप्यूटर स्क्रीन पर आउटपुट मिल जाता है।

CPU के कार्य क्या हे?

<>हेक्सा कोर (Hexa Core):ोता है और इसके बहुत से महत्वपूर्ण कार्य भी होते हैं जिसकी मदद से व्यक्ति कंप्यूटर पर आसानी से कार्य कर सकता है सभी जानते हैं CPU के क्या क्या कार्य हैं:

  • CPU सभी तरह के डाटा को प्रोसेसिंग करता है।
  • यह डाटा रिजल्ट और प्रोग्राम को स्टोर करने का कार्य करता है।
  • CPU का कार्य ऑपरेशन के सभी कार्यों को कंट्रोल करना है।
  • CPU के अंदर बहुत सारे डेटा को एक साथ रखा जा सकता है।
  • CPU बहुत सारे कार्य को एक साथ करने में मदद करता है।

Conclusion( निस्कर्स):

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में बस इतना ही था. I hope आप सबलोगो को what is cpu in hindi के बारे में पूरी जानकारी मिल गये होंगे. अब आप अगर cpu ख़रीद ना भी सहते हो तो आपको य>ऑक्टा कोर (Octa Core):ोत ही हेल्पफुल होगा.

अगर आपको cpu से जुरे कोई भी सवाल हो तो हमे जरुर बताये. आपको इस आर्टिकल को पढके कैसा लागा हमे जरुर बताये. आर्टिकल अत्छा लागा हो तो आप आपने Facebook, Twitter और Linkedin पर भी जरुर share करे. धन्यबाद ||

  • डेका कोर (Deca Core):acebook" Title="Facebook" class="heateorSssSharing heateorSssFacebookBackground" onclick='heateorSssPopup("https://www.facebook.com/sharer/sharer.php?u=https%3A%2F%2Foddwit.com%2Fwhat-is-cpu-in-hindi%2F")'>
  • Decode:ingSvg heateorSssPinterestSvg">
  • CPU के कार्य क्या हे?ck" class="heateorSssSharingSvg heateorSssMoreSvg">
>Conclusion( निस्कर्स):

Leave a Comment